सबसे ज्यादा 26% Dividend दे रहा है Vedanta का शेयर. मात्र 1.21 लाख इन्वेस्ट करने वाले आज 3.12 करोड रुपये के मालिक

पिछले कुछ दिनों से लगातार शेयर बाजार में वेदांता के शेयर (Vedanta Share) 308.10 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे। वेदांता समूह के समूह के चेयरमैन अनिल अग्रवाल (Anil Agarwal) हैं।

आखिर कौन है वेदांता ग्रुप का मालिक

अनिल अग्रवाल (Anil Agarwal) देश के दिग्गज उद्योगपतियों में गिने जाते हैं। ये ही वेदांता ग्रुप के चेयरमैन हैं। हालाँकि ये अभी लंदन में हैं पर मूलतः बिहार से हैं। वेदांता (Vedanta) मुख्य रूप से खनन क्षेत्र की प्रमुख कंपनी हैं

कितना बड़ा है शेयर पर प्रॉफिट

इस चालू वित्त वर्ष के तीसरी तिमाही के लिए वेदांता ग्रुप 17.50 रुपये प्रति इक्विटी शेयर या या एक रुपये प्रति शेयर के अंकित मूल्य पर 1,750% के तीसरे के तीसरे डिविडेंड को शेयर बाजार की तरफ से भी मंजूरी दी गयी है.

इस घोषणाा के बाद वेदांता के शेयरहोल्डर्स की बल्ले-बल्ले हो गई है। क्योंकि वेदांता की ओर से शेयरहोल्डर्स को जो डिविडेंड देने का ऐलान किया है कि वो किसी बैंक से मिलने वाले ब्याज से ज्यादा है.

आपके लिए इस Vedanta Share की बढ़ोतरी का मतलब

अगर आप शेयर बाजार में इन्वेस्टमेंट करते हैं या शेयर मार्किट में निवेश करने जा रहे हैं। तो फिर ये खबर आपके लिए सोने का अंडा देने वाली मुर्गी जैसी साबित हो सकती है।

क्योंकि जो शेयर बाजार के निवेशक है जो शेयर बाजार में लम्बे समय तक के लिए इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं वो इसी तरह के शेयर की तलाश करते हैं। जो एकबारगी उछाल भले ही न दिखाएं पर लम्बे समय तक बने रहने पर अच्छा प्रॉफिट दे जाएं।

इससे पहले और भी डिविडेंड दे चुकी है वेदांता कंपनी

इससे पहले Vedanta की ओर से इससे पहले दो डिविडेंड दिए जा चुके हैं. कंपनी ने शेयरहोल्डर्स (Vedanta Shareholders) को पहला डिविडेंड 31.5 रुपये, जबकि 19.50 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के दूसरे अंतरिम डिविडेंड को अपनी हरी झंडी दिखाई थी.

और चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानी जुलाई-सितंबर में वेदांता का एकीकृत शुद्ध लाभ 60.8% गिरकर 1,808 करोड़ रुपये रह गया. पिछले वर्ष समान तिमाही में उसे 4,615 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था.

ये है पूरी Vedanta Share Story

वेदांता कंपनी और उसके शेयर और डिविडेंट के बारे में तो आप सब कुछ जान ही गए अब सोचिये कि 2002 में इस कंपनी के शेयर की कीमत Vedanta Share price महज 1.21 रुपए थी उसकी कीमत आज ₹312 के आसपास है. हालांकि इस कंपनी ने अपने 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर ₹440 को भी छुआ है. मतलब आपके महज ₹1 21 पैसे की कीमत आज ₹312 के आसपास होती.

कंपनी के शेयर ने 2010 में ₹471 का ऑल टाइम हाई टच किया था. मतलब महज 8 साल में आपकी 1.21 रुपए की कीमत ₹471 होती। इसको हम इस प्रकार भी कह सकते हैं कि अगर सिर्फ आठ साल पहले अपने वेदांता कंपनी के शेयर में मात्र 121000 रुपए इन्वेस्ट किये होते तो आपके इन्वेस्टमेंट की कीमत आज 3 करोड़ 12 लाख होती।

Vedanta share 26% Dividend दे रहा है

वेदांता कंपनी ने अब तक लोगों को अपने डिविडेंड से भी बहुत खुश किया है बल्कि कंपनी प्रॉफिट से ज्यादा डिविडेंड दे रही है और अब तक के सफर में कंपनी ने 26% तक का डिविडेंड मुहैया कराया है अर्थात हर 4 साल में कंपनी ने निवेशकों के पैसे भी वापस कर दिए हैं।

इसको इस प्रकार भी कह सकते हैं कि अगर अपने वेदांता कंपनी में इन्वेस्टमेंट किया है तो आपका इन्वेस्टमेंट डिविडेंड के रूप में वापस आ गया है और अब इसके बाद आपको कंपनी से सिर्फ लाभ ही मिलना है।

इन्हे भी देखें – Dragon Fruit Farming है नया Business Idea: ड्रैगन फ्रूट की खेती में बढ़िया मुनाफा, सरकार से मिलेगी सब्सिडी, जानिए कैसे होगी कमाई

इन्हे भी देखें – जानिए Advance Tax के फायदे और डेडलाइन ताकि समय रहते आप भी लाभ उठा सकें

इन्हे भी देखें – टाटा भारत में मॉल और हाई-स्ट्रीट जैसी जगहों पर एपल के 100 स्टोर खोलेगा

इन्हे भी देखें – एलन मस्क ट्विटर हेडक्वार्टर के 265 आइटम 17 जनवरी से ऑनलाइन ऑक्शन नीलाम करेंगे

Leave a Comment