एयरपोर्ट पर अब लैपटॉप, मोबाइल और चार्जर निकाले बिना होगा सिक्योरिटी चेक, जल्द नए स्कैनर उपलब्ध होंगे

New Scanners Will Let Screening Without Removing Laptops On Airport – जल्द ही आप एयरपोर्ट पर अपने बैग से लैपटॉप, मोबाइल और चार्जर निकाले बिना एंट्री कर सकेंगे। इससे फायदा ये होगा कि आप लंबी कतारों से छुटकारा पा जायेंगे। द हिंदू की एक रिपोर्ट के अनुसार आने वाले दिनों में एयरपोर्ट पर नए मॉडर्न स्कैनर्स लगाए जाएंगे, जिससे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस को बैग से निकाले बिना ही स्क्रीनिंग की जा सकेगी।

एविएशन सिक्योरिटी रेगुलेटर ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी (BCAS) के अनुसार एयरपोर्ट पर नयी और बेहतर सुरक्षा के साथ-साथ यात्री सुविधा के लिए नई तकनीकों की जरूरत है। इसी क्रम में एयरपोर्ट पर बैग स्क्रीनिंग के लिए आधुनिक उपकरण लगाए जाएंगे।

एयरपोर्ट पर लगी मशीने पुराने मॉडल की

भारत भर के ज्यादातर एयरपोर्ट पर केबिन बैग की स्क्रीनिंग के लिए लगाई गई मशीने पुराने मॉडल की हैं और उनमें सुधार की आवश्यकता है। ये मशीनें पुरानी टेक्नोलॉजी की हैं। एयरपोर्ट पर ड्यूल एक्स-रे, कम्प्यूटर टोमोग्राफी और न्यूट्रॉन बीम टेक्नोलॉजी जैसी मशीने यात्रियों को लैपटॉप और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बिना बैग से निकाले स्कैनिंग करा सकेंगे।

एयरपोर्ट पर भीड़ की वजह से छूटी थी फ्लाइट

देश भर में एयर ट्रैवलर्स की संख्या में रिकॉर्ड वृद्धि देखी जा रही है। और कई जगह पर यात्रियों ने भारी भीड़ की वजह से फ्लाइट छूटने की भी शिकायत की है। जैसे 11 दिसंबर को कुल 4.27 लाख डोमेस्टिक ट्रैवलर्स को देखा गया था। हाल ही में दिल्ली एयरपोर्ट पर बहुत ज्यादा भीड़ के कारण कई लोगों की फ्लाइट मिस हो गई थी।

इसकी मुख्य वजह ये मानी जा रही है कि यात्रियों की संख्या में वृद्धि के अनुरूप केबिन बैग की स्क्रीनिंग के लिए मशीनें नहीं थीं जिस कारण भीड़ बढ़ गई थी।

एयरपोर्ट के नयी मशीनें बनाती हाई रिजोल्यूशन के साथ 3-डी इमेज

वर्तमान में एयरपोर्ट पर इस्तेमाल की जाने वाली एक्स-रे मशीनें तथा स्कैनिंग मशीनें 2-डी इमेज प्रोड्यूस करती हैं। जबकि नई तकनीक की मशीनें जैसे कम्प्यूटर टोमोग्राफी हाई रिजोल्यूशन के साथ 3-डी इमेज बनाती हैं और विस्फोटकों को बेहतर तरीके से ऑटोमेटिक डिटेक्ट करती हैं।

नई मशीनों में फॉल्स अलार्म की संख्या भी कम होती है। जिससे फॉल्स अलार्म के कारण CISF कर्मियों को जो बैग का फिजिकल इन्स्पेक्शन करना पड़ता है वो कम करना पड़ता है जिससे सबके समय की बचत होती है।

इन्हे भी देखें – ‘अडाणी वन’ ऐप हुआ लॉन्च:फ्लाइट टिकट बुकिंग से लेकर मिलेंगी कई सर्विसेज, हवाई यात्री अपना फीडबैक भी दे सकेंगे

इन्हे भी देखें – भारतीय नर्स विदेश में जाकर लाखों कमायें, इंडियन डॉक्टर्स से ज्यादा सैलरी मिलेगी, भारत में 24 लाख और विदेश में 7 लाख नर्स की डिमांड

इन्हे भी देखें – Fixed Deposit करने से पहले देख लें उन बैंकों की लिस्ट जो FD पर दे रहे हैं जो दे रहे हैं 9.59% तक का Fixed Deposit Interest Rate

इन्हे भी देखें – आप Indian Railway में प्लेटफॉर्म टिकट से भी कर सकते हैं ट्रैवल, क्या आपको पता है इंडियन रेलवे का ये नियम

इन्हे भी देखें – ये हैं 50 डिफॉल्टर्स कंपनियां जिन्होंने चट किये बैंकों के 92,570 करोड़ रुपए, मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि रत्न 7,848 करोड़ रुपए बकाये के साथ टॉप पर

Leave a Comment