अब म्यूचुअल फंड में निवेश के लिए ग्रो, जीरोधा और पेटीएम मनी जैसे प्लेटफॉर्म भी वसूलेंगे ट्रांजेक्शन फीस

mutual funds platforms now charge transaction fees for investing in mutual funds – अगर आप भी ऑनलाइन प्लेटफार्म से ऑनलाइन म्यूचुअल फंड (MF) इन्वेस्ट करते हैं तो इस खबर से आप परेशान होंगे क्योंकि ये खबर आपकी जेब हल्की करेगी। क्योंकि अब ऑनलाइन म्यूचुअल फंड (MF) इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म जल्द ग्राहकों या फंड हाउसेस से ट्रांजेक्शन फी वसूलना शुरू करेंगे।

इस काम के लिए मार्केट रेगुलेटर SEBI ने उन्हें इसकी बाकायदा अनुमति भी दे दी है। कुछ ऑनलाइन म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म जैसे ग्रो, जीरोधा कॉइन और पेटीएम मनी आदि अभी तक MF स्कीम्स में मुफ्त निवेश की सुविधा देते हैं। और म्यूचुअल फंड्स की बिक्री से इन्हें कोई आय नहीं होती है। पर अब वो इस सुविधा प्रदान करने का शुल्क ले सकते हैं।

इस समय सेबी की चेयरपर्सन माधवी पुरी बुच हैं उनके अनुसार ‘इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म कुछ राशि शुल्क के तौर पर वसूल सकते हैं, लेकिन कमीशन जैसे स्ट्रक्चर की अनुमति नहीं दी जाएगी।’

सेबी की चेयरपर्सन माधवी पुरी बुच ने कहा, सेबी ने इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म्स के लिए एक रेगुलेटरी फ्रेमवर्क का ऐलान भी किया है। ये न सिर्फ निवेशकों के लिए उपयुक्त सुरक्षा तंत्र होगा, बल्कि ऐसे प्लेटफॉर्म्स का संचालन भी आसान बनाएगा। ये प्लेटफॉर्म लेनदेन पर कितना और किससे शुल्क वसूलेंगे, इसका ब्योरा बाद में सामने आएगा।

सेबी के रेगुलेटरी फ्रेमवर्क

म्यूचुअल फंड (MF) इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म को एक्जीक्यूशन ओनली प्लेटफॉर्म (EOP) के रूप में खुद को रजिस्टर कराना होगा। अभी ये या तो निवेश सलाहकार (IA) या स्टॉक ब्रोकर के रूप में काम करते हैं।

रजिस्ट्रेशन: ऐसे प्लेटफॉर्म्स के पास दो विकल्प होंगे। ये एम्फी के साथ रजिस्ट्रेशन करवाकर एसेट मैनेजमेंट कंपनियों के एजेंट बन सकते हैं। इसके अलावा बतौर स्टॉक ब्रोकर रजिस्ट्रेशन कराकर निवेशकों के एजेंट भी बन सकते हैं।

इन्हे भी देखें – अब म्यूचुअल फंड में निवेश के लिए ग्रो, जीरोधा और पेटीएम मनी जैसे प्लेटफॉर्म भी वसूलेंगे ट्रांजेक्शन फीस

इन्हे भी देखें – Hero XPulse 200T 4V : हीरो की नयी बाइक हुई लांच, स्पोर्टी लुक, स्मार्टफोन कनेक्टिविटी और कॉल अलर्ट फीचर मिलेंगे

इन्हे भी देखें – हरियाणा ने जीता ‘स्कॉच गोल्ड अवॉर्ड’ कृषि से जुड़े Agri Awards के बारे में पूरी जानकारी

इन्हे भी देखें – आप Indian Railway में प्लेटफॉर्म टिकट से भी कर सकते हैं ट्रैवल, क्या आपको पता है इंडियन रेलवे का ये नियम

इन्हे भी देखें – ये हैं 50 डिफॉल्टर्स कंपनियां जिन्होंने चट किये बैंकों के 92,570 करोड़ रुपए, मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि रत्न 7,848 करोड़ रुपए बकाये के साथ टॉप पर

Leave a Comment