Bank Locker Agreement: बैंक लॉकर का करते हैं इस्तेमाल तो तुरंत कर लें ये काम, बैंक लाकर एग्रीमेंट रिन्यू करना जरुरी

अगर आप बैंक लॉकर का इस्तेमाल करते हैं अपने जरूरी कागजात और पैसे रुपए और गहने जेवर रखने के लिए तो यह आज का आर्टिकल आपके लिए बहुत काम का है असल में 1 जनवरी से आरबीआई के दिशा निर्देश के अनुसार सभी बैंक अपने बैंक लॉकर का एग्रीमेंट रिन्यू करा रहे हैं और इसके लिए वह अपने ग्राहकों को एस एम एस भेज रहे हैं लेकिन बहुत सारे ग्राहकों को एसएमएस प्राप्त हुए हैं बहुतों को नहीं प्राप्त हुए तो अगर आपको इस तरह का कोई SMS नहीं प्राप्त हुआ है और आप बैंक लॉकर का इस्तेमाल करते हैं तो आप खुद अपने बैंक से कांटेक्ट करके इस एग्रीमेंट को रिन्यू करा लें ।

बैंक लॉकर का इस्तेमाल आजकल लगभग सभी लोग करते हैं अपने बैंक अपने जीवन भर के जमा पूंजी को जैसे गहने, जमीन के कागजात आदि बैंक लॉकर में रखते हैं अब हुआ क्या है कि 1 जनवरी 2023 से RBI का नया नियम लागू हो गया है और इसके लिए बैंक अपने ग्राहकों को SMS भेज रहे हैं तो आप भी अपने नजदीकी बैंक में अपने बैंक में जाकर नोटिफिकेशन को ले लें और उसमें उसको पढ़ कर उसमें अपने साइन करके और जरूरी डॉक्यूमेंट के साथ इसको वापस जमा करें।

क्या है ये नया Bank Locker Agreement

इस नोटिफिकेशन के बाद ग्राहकों को लॉकर सिस्टम के लिए अपनी योग्यता साबित करनी पड़ेगी इस नोटिफिकेशन के बाद ग्राहकों को लॉकर सिस्टम के लिए अपनी योग्यता साबित करने के लिए सबूत पेश करना होगा इसका मतलब यह है कि इस डॉक्यूमेंट में उनको हालांकि से परेशान होने की कोई भी बात नहीं है यह तीन चार पन्नों का डॉक्यूमेंट है और जिसके आप जिसमें आप को पढ़कर सारे पेज में सिर्फ हस्ताक्षर ही करने हैं और इसके साथ अपना पैन कार्ड और आधार कार्ड लगाकर फिर इसे वापस बैंक में सबमिट करना है

कैसे सब्मिट करना है इस Bank Locker Agreement को

अगर आपको अभी इस तरह का कोई SMS नहीं आया है या आप अभी आपने अभी तक कोई एग्रीमेंट लॉकर एग्रीमेंट रिन्यू नहीं कराया है तो आज ही अपने बैंक से कांटेक्ट करें लॉकर एग्रीमेंट की कॉपी ले और उसको पढ़कर उसे वापस हस्ताक्षर के साथ पूरे कागजात जैसे अपना पैन कार्ड और आधार कार्ड के साथ बैंक में सबमिट करें।

क्या है इस बैंक लाकर एग्रीमेंट

अभी आपके दिमाग में यह चल रहा होगा कि आखिर यह लॉकर कमेंट है क्या और यह कैसे इसको किया जाए वास्तव में लॉकर एग्रीमेंट एक मोहर लगा हुआ डॉक्यूमेंट है जिसमें इसमें ग्राहक को उसके अधिकारों और जिम्मेदारियों के बारे में बताया जाता है और लॉकर के सिक्योरिटी और उसके अंदर के सामान के सिक्योरिटी की जिम्मेदारी बैंक की होती है आरबीआई का नोटिफिकेशन कहता है कि बैंक की जिम्मेदारी है कि वह अपने कैंपस की सिक्योरिटी और लॉकर की सिक्योरिटी के लिए तमाम जरूरी कदम उठाए ताकि ग्राहक का समान शेष रह सके।

Image Credit – GoodReturns

इन्हे भी देखें – एयरटेल-जियो को टक्कर देगी BSNL:सरकारी टेलीकॉम कंपनी BSNL अप्रैल 2024 तक लॉन्च करेगी 5G सर्विस

इन्हे भी देखें – इस एक रूपये शेयर ने 5,100 फीसदी का रिटर्न देकर एक साल में बना दिया 52 लाख रुपये का ​मालिक, Penny Stock में निवेश

इन्हे भी देखें – रेहड़ी-पटरी वालों के लिए बड़ी खबर: 2023 में स्ट्रीट वेंडर्स को 3000 से 5000 लोन देगी सरकार, माइक्रो क्रेडिट फैसिलिटी, PM स्वनिधि योजना

इन्हे भी देखें – मारुति ईको कारों के साइलेंसर को चोरी कर लखपति बने चोरों को पुलिस ने धर दबोचा, जाने क्या है पूरा मामला

इन्हे भी देखें – Aadhaar Card खो जाने पर दुबारा से आधार कार्ड के नंबर और इनरोलमेंट आईडी मिनटों में ऐसे पायें, जाने इसका पूरा प्रोसेस

इन्हे भी देखें – Honda Cars के पुराना स्टॉक का ऑफर से बड़े डिस्काउंट में खरीदें City, Amaze, WRV, MRP पर 72000 रुपये तक की छूट

इन्हे भी देखें – LML Star electric scooter इलेक्ट्रिक व्हीकल बाजार में कल से धमाका करने जा रहा है, टॉप स्पीड 100 kph, फुल चार्ज में 120Km तक चलेगा

Leave a Comment