सही रखें अपना सिबिल स्कोर वरना नहीं मिलेगा लोन, कैसे इन पांच गलतियों से बचकर अपना CIBIL score बेहतर करें

इस समय अर्थव्यवस्था काफी हद तक पटरी पर है और बिज़नेस और स्टार्टअप के लिए माहौल भी अच्छा है। ऐसे में अगर आप भी अपना बिज़नेस खोलने के लिए या अपनी छोटी-बड़ी जरूरतें पूरी करने के लिए लोन या फिर आप फाइनेंस के सेक्टर में जॉब खोज रहे हैं तो फिर आपको सिबिल (CIBIL) स्कोर के बारे में जानकारी होनी चाहिए।

क्योंकि बिना अच्छे सिबिल (CIBIL) स्कोर के न तो कोई कंपनी आपको लोन देगी और नहीं कोई कंपनी फाइनेंस के सेक्टर में जॉब देगी। इसलिए आपके लिए अच्छा सिबिल स्कोर बनाए रखना जरूरी होता है।

आखिर क्या है ये सिबिल (CIBIL) स्कोर

वास्तव में सिबिल का फुल फॉर्म होता है क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड और भारतीय रिजर्व बैंक से लाइसेंस प्राप्त क्रेडिट स्कोर की सूचना देने वाली कंपनियों में से एक है इसके आलावा इक्विफैक्स, एक्सपेरियन और सीएफआई हाईमार्क भी आपका क्रेडिट स्कोर देती हैं।

सिर्फ तीन अंको का होता है सिबिल (CIBIL) स्कोर

सिबिल स्कोर 300 से 900 के बीच तीन अंकों का एक नंबर है जो व्यक्ति की क्रेडिट हिस्ट्री दिखाता है। साथ ही ये यह भी दिखता है कि बैंक या नॉन-बैंकिंग संस्थाओं के साथ व्यक्ति का लेनदेन कैसा रहा है।

पर सिबिल स्कोर जनरेट करने के लिए कम से कम एक बार लोन लेना या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना होता है। पर यह एक दिन में नहीं बनता, इसके लिए 18 से 36 महीने लगते हैं।

लोन के कितना होना चाहिए सिबिल स्कोर

लोन की प्रक्रिया में ये सिबिल स्कोर बहुत अहम रोल अदा करता है। अगर सिबिल स्कोर अच्छा होता है, तो लोन अप्रूव होने में समस्या नहीं आती है और इसके कम होने पर लोन मिलना मुश्किल हो जाता है। या अलग शब्दों में कहें तो अधिकतर बैंक या फाइनेंस कंपनियां सिबिल स्कोर ख़राब होने पर लोन देने से इंकार तक कर देती हैं।

सिबिल स्कोर 300 से 550 तक को ख़राब , 550 से 650 तक औसत, 650 से 750 तक अच्छा और 750 से 900 के बीच सबसे अच्छा माना जाता है। इसका मतलब ये है कि अगर आप चाहते हैं कि आपको लोन फटाफट मिल जाये तो आपको अपना सिबिल स्कोर 750 से 900 के बीच रखना होगा।

अपना सिबिल स्कोर कैसे बेहतर करें

वैसे तो अगर सरल शब्दों में कहें तो अगर अपने कोई लोन लिया हो सही समय से चुकता करें तो आपका सिबिल स्कोर अपने आप बेहतर हो जाता है।

आज हम यहाँ पर खर्च करने, कर्ज चुकाने और क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल से जुड़ी कुछ आदतें हैं जिनसे आप अपने सिबिल स्कोर को बेहतर बना सकते हैं या कम है तो इसे कैसे बढ़ाया जा सकता है।

  1. लोन की रकम का समय पर करें भुगतान: यदि आपने कोई लोन लिया है और पूरा अमाउंट नहीं पाय कर पा रहे हैं तो उसे EMI के रूप में समय पर पे करें। अपने कर्जों पर अंकुश लगाने के लिए शुरुआत में एक समय में एक ही कर्ज लें। लोन की ईएमआई समय पर दें। इससे सिबिल स्कोर सुधरेगा और मेन्टेन रहेगा।
  2. क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ मजे के लिए न करें: भले ही क्रेडिट कार्ड से अब आपन सभी चीजें खरीद सकते हैं पर ध्यान रखें की उन चीजों के दाम आपको ही चुकाने हैं और वो भी कुछ ही समय में । और लोन का अमाउंट कितना भी कम हो उसे समय पर चुकता करें क्योंकि क्रेडिट कार्ड का बिल समय पर न भरने पर भी सिबिल स्कोर कम होता है। और सिबिल स्कोर कम होने पर आपको दुबारा लोन मिलने में कठिनाई सकती है।
  1. कर्ज उतना लें जितनी आपकी हैसियत हो : ध्यान रखें कि किसी बैंक या फाइनेंशियल कंपनी से उतना ही कर्ज लें, जितना आसानी से चुका पाएं या फिर उसको चुकाने के लिए आपको कहीं और से लोन न लेना पड़े । और फिर ज्यादा कर्ज लेने पर ईएमआई अधिक होगी और इसके भुगतान न करने पर या इसके भुगतान में देरी करने पर सीधा असर सिबिल स्कोर पर पड़ेगा।
  2. संयुक्त खाते को लेकर सावधान रहें : संयुक्त खाता खोलने या लोन गारंटर बनते समय बहुत सावधान रहने की आवश्यकता होती है क्योंकि अगर कर्ज लेने वाला भुगतान में चूकता है तो सीधे जॉइंट अकाउंट होल्डर होने की वजह से आपके सिबिल स्कोर को भी प्रभावित करेगा और बतौर गारंटर उसका सीधा असर आपके सिबिल स्कोर पर पड़ेगा। 
  3. सिबिल स्कोर बार-बार चैक करने की आदत न डाले : आज कई तरह के मोबाइल एप मौजूद हैं जिनका उपयोग कर सिबिल स्कोर देखा जा सकता है। पर ऐसा करने से बचना चाहिए, क्योंकि बार-बार स्कोर चैक करने से भी सिबिल डाउन होता है।

कैसे चेक करें अपना सिबिल स्कोर ?

आप अपना सिबिल स्कोर आधिकारिक सिबिल वेबसाइट www.cibil.com पर एक बार फ्री में देख सकते हैं और इसके लिए पेन नंबर की आवश्यकता होती है।

पर अगर आप एक से ज्यादा बार सिबिल वेबसाइट से सिबिल स्कोर चेक करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पेड सब्सक्रिप्शन प्लान लेना पड़ेगा। इसके लिए 550 रुपए का मासिक सब्सक्रिप्शन प्लान लेना पड़ता है।

और हाँ सिबिल वेबसाइट के अलावा आप कई मोबाइल एप, बैंकिंग सेवा एग्रीगेटर्स या नॉन बैंकिंग संस्थान की वेबसाइट से भी सिबिल स्कोर चेक कर सकते हैं ।

Leave a Comment