पाकिस्तान के जनरल बने बाजवा की बहू महनूर साबिर केवल नौ दिन में बनी अरबपति

इस समय आर्थिक बदहाली से गुजर रहे पाकिस्तान में नए सेनाध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर सियासत तेज हो गई है.

क्योंकि छह साल से सेनाध्यक्ष के पद की जिम्मेदारी संभाल रहे जनरल Qamar Ahmed Bajwa 29 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं

लेकिन उनके रिटायमेंट के साथ ही उनकी अरबपति बहू महनूर साबिर भी सुर्खियों में आ गई हैं.

वेबसाइट ‘द फैक्ट फोकस’ के अनुसार पाक सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा

के परिवार की संपत्ति का जो खुलासा किया गया है, उसने सभी को चौंका दिया है.

पर सबसे ज्यादा चर्चा बाजवा की बहू की हो रही है, जो महज नौ दिनों में ही अरबपति बन गईं. 

वेबसाइट ‘फैक्ट फोकस’ में आंकड़ों के साथ इस बात का दावा किया गया है कि

जनरल Qamar Ahmed Bajwa की बहू मनहूर साबिर (Mahnoor Sabir) की दौलत एक झटके में जीरो से एक अरब रुपये तक पहुंच गई.

मनहूर इतनी संपत्ति की मालकिन शादी के ठीक हफ्तेभर पहले बनीं, जो चौंकाने वाला है.

रिपोर्ट के अनुसार महनूर साबिर की संपत्ति अक्टूबर 2018 में शून्य थी, लेकिन दो नवंबर 2018 तक बढ़कर 127.1 करोड़ रुपये हो गई. 

The Fact Focus की रिपोर्ट में पाकिस्तान के लाहौर (Lahore) की रहने वाली महनूर साबिर के कुछ ही दिनों में अरबपति बनने के बारे में पूरा खुलासा किया गया है

रिपोर्ट के अनुसार सेना प्रमुख बाजवा की बहू (Bajwa Daughter In Law) बनने से ठीक नौ दिन पहले ही महनूर अरबपतियों की लिस्ट में शामिल हो गई थीं.

अक्टूबर के आखिरी हफ्ते में उनके पास बिल्कुल भी दौलत नहीं थी, यानी महनूर शून्य संपत्ति की मालकिन थी.

लेकिन 2 नवंबर 2018 को जब उनकी शादी बाजवा के बेटे से हुई थी,

तो वे एकदम से एक अरब रुपये से ज्यादा नेटवर्थ वाली महिला बन गईं. 

जनरल बाजवा के बेटे से निकाह से ठीक नौ दिन पहले ही 23 अक्टूबर 2018 को

उसके नाम पर गुजरांवाला में आठ DHA प्लॉट बैक-डेट में आवंटित किए गए थे.

यही नहीं इसी दिन महनूर 2015 की बैक-डेट में वह एक कॉन्स्टिट्यूशन वन ग्रैंड हयात अपार्टमेंट मालकिन भी बनीं.

महनूर साबिर के पास 34 करोड़ रुपये की कृषि भूमि, करीब 7 करोड़ का ग्रैंड हयात इस्लामाबाद अपार्टमेंट,

डीएचए लाहौर के फेज 7 सेक्टर सी में 49 करोड़ के सात कमर्शियल प्लॉट,

डीएचए गुजरांवाला में 7.2 करोड़ के आठ प्लॉट और एक कंपनी में 15 लाख रुपए के के 15,000 शेयर हैं.

Leave a Comment